मुसीबत की घड़ी में रूस ने हमेशा हमारा साथ दिया-मोदी
Posted on: Friday 25 December 2015  

मॉस्को. संकट की घड़ी में रूस ने हमेशा हमारा साथ दिया है। "जब भी भारत को जरूरत पड़ी, रूस ने साथ दिया।" प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने दो दिन के रूस दौरे के आखिरी दिन इंडियन कम्युनिटी को एड्रेस करते हुए ये बात कही। बता दें कि मॉस्को के एक्सपो सेंटर में मोदी को सुनने के लिए लगभग तीन हजार लोग पहुंचे थे। इससे पहले पीएम ने रूसी कलाकारों को बधाई दी। टेररिज्म पर भारत-रूस साथ मॉस्को के एक्सपो सेंटर में इंडियन कम्युनिटी को एड्रेस करते हुए मोदी ने टेररिज्म का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि आतंकवाद जैसे गंभीर समस्या से निपटाने के लिए भारत रूस साथ-साथ है। मोदी ने कहा कि आतंक पर अपनी बात रखने में भारत कामयाब हुआ है। हालांकि, मानवता के इस दुश्मन से लड़ने के लिए पूरी दुनिया को एकजुट होना पड़ेगा। दुनिया में भारत की इकॉनोमी की चर्चा - मोदी ने कहा कि आज पूरे विश्व में भारत के आर्थिक विकास की चर्चा हो रही है। भारत सबसे मजबूत अर्थव्यवस्था के रूप में उभर रहा है। रूस से बताया गहरा नाता - मोदी ने कहा, "रूसी भाषा में संस्कृति की झलक मिलती है।" साथ ही कहा, "रूस में 150 से ज्यादा भारतीय संगीत और कला के स्कूल चलते हैं। भारत के छात्रों को रूस में अपनापन-सा लगता है।" - प्रधानमंत्री ने कहा, "रूस में वैदिक मंत्रों का उच्चारण हुआ, मुझे इस बात की खुशी है।" योग का जिक्र - योग का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि दुनियाभर में योग की चर्चा हो रही है। विश्व में योगा के प्रति लगाव देखने को मिल रहा है। - उन्होंने रूस का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि 20 में को रूस में 200 जगहों पर योगा हुआ था। - उन्होंने कहा कि रूस के स्टूडेंट्स करीब 300 साल से भारत आते रहे हैं। दोनों देशों के बीच 16 करार इससे पहले भारत-रूस के बीच गुरुवार को कुल 16 एग्रीमेंट हुए। इसमें मेक इन इंडिया मिशन के तहत पहले डिफेंस प्रोजेक्ट के तौर पर भारत में `कामोव-226` हेलिकॉप्टर बनाना शामिल है।

 
 












PHPlist Appliance - Powered by TurnKey Linux