नूडल्स प्रोडक्ट भारतीय बाजार से वापस फैसला
Posted on: Friday 05 June 2015  

नई दिल्ली. लगातार विवादों में घिरी नेस्ले कंपनी ने अपने मैगी नूडल्स प्रोडक्ट को भारतीय बाजार से वापस लेने का फैसला किया है। कंपनी ने गुरुवार देर रात जारी एक बयान जारी कर एक बार फिर यह दावा किया कि मैगी फूड सेफ है। नेस्ले ने यह भी कहा कि उसे यकीन है कि भारत में इस प्रोडक्ट को लेकर जारी विवाद जल्द ही शांत होगा और मैगी को एक बार फिर उपभोक्ता पसंद करेंगे। नेस्ले के लिए एक और बुरी खबर यह है कि ब्रिटेन भी मैगी के सैम्पल्स की जांच करने जा रहा है। हालांकि सैम्पल्स केवल ब्रिटेन में भारतीय स्टोर्स के ही होंगे।
क्या कहा मैगी ने मैगी ने अपने बयान में कहा. ‘मैगी पूरी तरह सेफ फूड प्रोडक्ट है। हालिया विवाद से उपभोक्ताओं में जो कन्फ्युजन पैदा हुआ है, उसे दूर करने के लिए हम फिलहाल इस प्रोडक्ट को बाजार से वापस ले रहे हैं। हम वादा करते हैं कि जैसे ही ताजा विवाद पर स्थिति साफ होगी-हम भारतीय बाजार में वापसी करेंगे।’ ब्रिटेन के भारतीय स्टोर्स में भी जांच होगी मैगी बनाने वाली कंपनी नेस्ले के लिए परेशानी पैदा करने वाली एक और खबर है। दरअसल, ब्रिटेन की फूड स्टेंडर्ड एजेंसी ने भारतीय स्टोर्स से मैगी के सैम्पल्स लिए हैं और इन्हें जांच के लिए भेज दिया है। एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक एजेंसी ने कहा है कि भारत से मिलने वाली रिपोर्ट देखने के बाद उसने यह फैसला किया है। एजेंसी ने ये भी कहा कि वह यूरोपीय कमीशन के साथ यह जांच कर रहा है कि क्या ब्रिटेन के भारतीय स्टोर्स में बिकने वाली मैगी में भी लेड का वही प्रतिशत है जो भारतीय जांच में पाया गया है। मैगी को लेकर अब तक ये हुआ
1. असम सरकार ने मैगी के चिकन फ्लेवर को 30 दिन के लिए बैन किया।
2. तमिलनाडु राज्य उपभोक्ता शिकायत निवारण आयोग (TSCDRC) ने अमिताभ बच्चन, माधुरी दीक्षित और प्रिटी जिंटा को नोटिस भेजा। राज्य में मैगी को 3 महीने के लिए बैन कर दिया गया है।
3. जम्मू-कश्मीर में मैगी और नेस्ले कंपनी के बाकी प्रोडक्ट्स पर एक महीने का बैन।
4. गुजरात में मैगी और सनफीस्ट के नूडल्स की बिक्री पर एक महीने की रोक लगी।
5. मुंबई के रिटेलर संगठन फेडरेशन ऑफ रिटेल ट्रेडर्स वेलफेयर एसोसिएशन ने 25 हजार प्रोविजनल स्टोरों पर मैगी बैन कर दी।
6. उत्तराखंड और केरल में भी मैगी बैन।
7. बुधवार को दिल्ली में मैगी की सेल पर 15 दिन के लिए रोक लगाई गई।
8. राजस्थान के अजमेर में 2250 किलो मैगी जब्त कर पूरे जिले में इसकी बिक्री रोक दी गई है।
9. भारतीय सेना ने देश भर में फैली आर्मी कैंटीन में मैगी की बिक्री पर बुधवार को रोक लगा दी। आर्मी ने अपने जवानो को भी इसे ना खाने की भी सलाह दी है।
10. बिग बाजार नाम से रीटेल चेन चलाने वाले फ्यूचर ग्रुप ने भी फैसला किया है कि जब तक मैगी की गुणवत्‍ता को लेकर चल रही जांच के अंतिम नतीजे नहीं आते तब तक वह अपने किसी आउटलेट पर मैगी नहीं बेचेगा।
11. केंद्र सरकार की ओर से संचालित केंद्रीय भंडारों में भी मैगी नहीं बेचने का फैसला लिया गया है।
आगे की स्लाइड में पढ़ें: पीएमओ ने मांगी विवाद पर रिपोर्ट और dainikbhaskar.com के एक लाख से ज्यादा रीडर्स ने की मैगी पर बैन की मांग...

नेस्ले ने मैगी को बाजार से हटाने का फैसला कर लिया है।

 
 












PHPlist Appliance - Powered by TurnKey Linux